Click to Download this video!

आकांक्षा भाभी ने मेरे अंदर के सेक्स को जगा दिया

Akanksha bhabhi ne mere andar ke sex ko jaga diya:

desi sex stories, antarvasna

मेरा नाम सतीश है और मैं एक सिक्योरिटी एजेंसी में काम करता हूं। हम लोग वहां पर बाउंसर का काम करते हैं और जब भी कहीं भी कोई आवश्यकता होती है तो हम लोग वहां पर चले जाते हैं। हम लोग अच्छे से सब सिक्योरिटी संभालते हैं। जिससे कि हमारी कंपनी बहुत ही अच्छी कंपनी है और जब भी किसी को आवश्यकता होती है तो वह हमारी कंपनी में ही आता है और हमें हायर करता है। मुझे भी इस कंपनी में काम करते हुए बहुत वर्ष हो चुके हैं। मेरी उम्र अब 35 वर्ष की हो चुकी है लेकिन मैं इस कंपनी में बहुत समय से जुड़ा हुआ हूं। मेरा सिर्फ एक ही काम रहता है, अपना काम करना और जिम जाना। मुझे जिम जाने का बहुत शौक है और इसी वजह से मैं जिम जाता हूं। मेरे घर में मेरे पिताजी हैं जो कि एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते थे लेकिन अब उन्होंने काम छोड़ दिया है। उनका स्वास्थ्य कुछ ठीक नहीं रहता इसलिए मैंने उन्हें कहा कि अब आप घर पर ही रहिए और घर पर ही आप आराम कीजिए। वह मेरी बात मान चुके हैं और अब घर पर ही रहते हैं। क्योंकि उनका स्वास्थ्य भी कुछ ठीक नहीं था इसलिए मुझे बहुत डर लगता था कि कहीं उनकी तबीयत ज्यादा ना खराब हो जाए।

मेरा एक और भाई है। जो हमसे अलग रहता है। वह दूसरे शहर में रहता है। इसलिए उसकी पत्नी भी उसी के साथ रहती है। वह लोग बहुत कम घर आते हैं क्योंकि उसे भी छुट्टियां नहीं मिल पाती है। इसलिए उसका बहुत कम आना होता है। मेरी शादी को भी बहुत वर्ष हो चुके हैं और मेरी पत्नी भी बहुत अच्छी है। वह मेरे पिताजी का बहुत ही ख्याल रखती है और मेरी मां का भी बहुत ध्यान रखती है। मैं सोच रहा था कि अपने पिताजी के लिए कहीं पर कुछ काम खोलने दू। जिससे कि वह वहां पर बैठ कर अपना समय व्यतीत कर सकें। मैं उनके लिए कोई दुकान देख रहा था लेकिन मुझे कहीं पर भी कोई दुकान नहीं मिल रही थी। अब वह घर पर ही बैठे रहते थे। एक दिन मुझे कंपनी से फोन आया और वह कहने लगे कि तुम्हें एक अच्छी ऑफर आई है। अगर तुम्हें वहां पर काम करना है तो तुम उनके साथ काम कर सकते हो। मैंने उन्हें कहा कि मैं ऑफिस आ जाता हूं। वहां पर आप मुझे बता दीजिएगा। जब मैं ऑफिस गया तो वह मुझे कहने लगे कि एक बहुत ही बडी कंपनी के मालिक हैं। उनके साथ तुम्हें बॉडीगार्ड बनना है और उन्ही के साथ रहना है। मैंने कहा ठीक है आप मुझे बता दीजिए। मैं उनके पास चला जाऊंगा। क्योंकि वह मुझे बहुत ही अच्छे पैसे दे रहे थे। इसलिए मैं उनके घर ही चला गया। उनके घर पर उनकी पत्नि और एक लड़की है। उनकी पत्नी का नाम आकांक्षा है और उनकी लड़की की उम्र अभी 10 वर्ष है लेकिन वह बहुत ही पैसे वाले व्यक्ति हैं। जब उन्होंने मुझे अपने साथ रखा तो उन्होंने मुझसे मेरे घर के बारे में जानकारी ली। मैंने उन्हें अपने घर के बारे में सब कुछ बता दिया था। जिससे कि वह कहने लगे ठीक है। तुम अब कल से मेरे साथ ही मेरे ऑफिस चला करना। मैं उनके साथ ही रहता था। जब वह घर पर आ जाते तो मैं भी अपने घर पर निकल जाया करता।  उनका व्यवहार बहुत ही अच्छा था। उनकी पत्नी का व्यवहार भी बहुत ही अच्छा था। उन्होंने मुझे अपने साथ ही रहने के लिए कहा।

जब बॉस ऑफिस जाते तो मैं उनके साथ ही रहता और जब वह घर पर होते तो तब भी मैं उन्हीं के साथ रहता था। इस वजह से मेरे उनके साथ संबंध बहुत अच्छे हो गए थे और उनकी पत्नी के साथ भी मेरे बहुत अच्छे संबंध थे। मैं मैडम को आकांक्षा भाभी कह कर बुलाता था और वह भी मुझे हमेशा कहती रहती थी कि तुम्हारा शरीर कितना अच्छा है। मैं उन्हें कहता कि यह सब मैंने जिम जाकर कसरत करके अपने शरीर बनाया है मुझे इसमें बहुत मेहनत लगी है। वह मुझे हमेशा कहती रहती थी कि तुम अपनी बॉडी मुझे दिखाया करो। मैंने उन्हें अपनी बॉडी दिखाता रहता था जिससे वह खुश होती थी और मेरे शरीर को छूने की कोशिश करती रहती थी। मुझे भी कई बार लगता था कि शायद उनको मेरा मोटा लंड चाहिए लेकिन मैं अपने बॉस के साथ ही रहता था इसलिए मुझे बिल्कुल समय नहीं मिल पा रहा था कि कभी उनसे इस तरीके की बात कर सकूं और ना ही कभी ऐसा मौका आया। मेरे बॉस का नाम तेजिंदर है वह बहुत ही अच्छे व्यक्ति हैं लेकिन आकांक्षा भाभी की नियत पर मुझे शक है क्योंकि उन्हें कुछ लंबा चाहिए।

एक बार मेरे बॉस को ऑफिस में लेट हो गई और मैं भी उनके साथ ऑफिस में ही था। जब हम उनके घर गए तो वह कहने लगे कि तुम आज यहीं पर रुक जाओ क्योंकि सुबह मुझे जल्दी जाना है इसलिए तुम्हें सुबह घर से आने में दिक्कत होगी। मैं अब उनके साथ ही उनके घर पर रुक गया मैं जब उनके घर पर रुका तो उनके सर्वेंट क्वार्टर में मैं रूका हुआ था।

रात को जब मैं लेटा हुआ था तो आकांक्षा भाभी वहां पर आई और मेरे शरीर को सहलाने लगी। जब मैंने अपनी आंख खोली तो मैंने देखा वह आकांक्षा भाभी है। मैंने तुरंत अपनी बनियान पहन ली और वह कहने लगी कि तुम अपनी बनियान पहन रहे हो। मैंने उन्हें कहा कि यह सब अच्छा नहीं है वो कहने लगी अच्छा बुरा तुम मुझे मत सिखाओ। तुम मेरी इच्छा को पूरी कर दो क्योंकि तुम्हारे बॉस तो मुझे चोदते भी नहीं है। मैं अंदर ही अंदर से तड़प रही हूं। जब उन्होंने यह बात कही तो मैंने भी तुरंत ही अपने 10 इंच के लंड को बाहर निकाल लिया और उन्होंने उसे लपकते हुए अपने मुंह के अंदर ले लिया। उन्होंने इतने अच्छे से उसे अपने मुंह के अंदर लिया की मेरा पानी निकलने लगा और वह उसे चूसने लगी। वह काफी देर तक मेरे लंड को चुसती जाती जिससे कि उनकी उत्तेजना भी बढ़ रही थी और उन्होंने अपने सारे कपड़े उतार दिए। वह जमीन पर ही अपने पैर खोल कर लेट गई। जब वह लेटी हुई थी तो उनकी चूत मुझे दिखाई दे रही थी। उनकी चूत के अंदर मैंने  उंगली डाली तो उनकी चूत से पानी निकल रहा था। मैं उनके चूत के अंदर बाहर अपनी उंगली को करता जाता मुझे बहुत ही मजा आ रहा था जब मैं उनकी चूत मे उंगली डाल रहा था। अब मैंने अपने लंड को उनकी चूत के अंदर डाल दिया जैसे ही मैंने अपने लंड को डाला तो वह चिल्ला उठी और कहने लगी तुम्हारा तो बहुत ही मोटा है, मैंने आज तक कभी इतना मोटा लंड अपनी चूत मे नहीं लिया। मैंने उनके दोनों पैरों को कसकर पकड़ लिया और अब मैंने उन्हें बड़ी स्पीड से चोदना शुरू किया। मैं इतनी स्पीड से धक्के मार रहा था कि उनकी जीभ बाहर आने लगी और वह सिसकिया लेने लगी उनका मुंह खुला हुआ था।

मैंने उनके होठो को चूसना शुरु कर दिया और उनके होठों को बहुत अच्छे से चूस रहा था। मैंने उनके स्तनों को अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू किया। उनके स्तन भी काफी बड़े थे और मै उन्हें अपने हाथों से दबा रहा था त मुझे काफी मजा आ रहा था जब मैं स्तनों को अपने हाथों से दबा कर अपने मुंह के अंदर ले रहा था। मैं ऐसे ही अभी भी उन्हें झटके मार रहा था। अब वह अपने पैरों को मिलाने लगी और जब उन्होंने अपने पैरों को मिलाया तो मैं समझ गया कि यह अब झडने वाली हैं। मैंने उन्हें बड़ी तीव्रता से चोदना शुरू कर दिया मैंने अपनी गति को और ज्यादा बढ़ाते हुए उनकी चूत में बड़ी तेजी से धक्का देना शुरू किया। जिससे कि उनका शरीर पूरा गर्म होने लगा और मेरा शरीर भी पूरा गर्म हो चुका था लेकिन मुझे बहुत ही मजा आ रहा था जब मैं उन्हें धक्के देते जा रहा था। वह बड़ी तेज आवाज में चिल्लाने में लगी हुई थी और मैं उन्हें ऐसे ही चोद रहा था। जब उनका झड़ गया तो मैंने  उनके दोनों पैरों को चौड़ा कर दिया और मैं उन्हें अब भी चोदने में लगा हुआ था। कुछ देर बाद उनकी चूत से कुछ ज्यादा ही गर्मी निकलने लगी और मेरा वीर्य पतन हो गया मैंने अपने लंड को उनकी चूत से बाहर निकाला। अब हम दोनों काफी देर तक बैठे थे और वह कहने लगी तुम ने मुझे बहुत ही अच्छे से चोदा है मैं बहुत खुश हूं। अब से जब भी तुम्हे हमारे घर रुकने का मौका मिले तो तुम मेरी चूत को मार दिया करो मुझे बहुत अच्छा लगेगा अगर तुम मेरी चूत को मारोगे।


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


hindi chut ki photohindi chudayi kahanichikni bhabhihindi font chudai storynew chudai kahani with photobhabhi chudai devarantarvasna comaunty ki badi chutgand kahanimast padosansali ki seal todicall girl ki chudai kahanisaxy gammaa ne bete ko chodna sikhayadesi sexy story hindiantervasna ki khaniyarahul ki gand marilatest desi chudai storiesantarvasnan hindichoot aur lundbhabhi ki chudai story newkamvasna chudaiwww hindi sex storis comsali ki chudai ki khaniyamarathi sex story newsasur ko patayahindi real chudai storyantervasna hindi comsexye hindibhai behan ki gand maridehati hindigujarati chudai ni vartachota lund ki chudaipapa ki chudai kahanirekha bhabhi ki chutmujhe bus me chodaincest chudaibhabhi ko bedroom me chodachudai ki kahani baap beti kihindi sex khahanimastram ki nayi kahani in hindichut mari gf kisasur se chudibhai se chudai karaisasur ne bahu ki chudai kisali ki chudai storyantarvasna chudainew story maa ko chodainscet sex storiesbhabhi ko chudachoti beti ko chodamoti maa ki gand mariindian hindi kamsutrafamily chudai comhindi sexe storebhai bahan sexy storyaunty sex in hindimaa ki khet me chudaimosi sex storyhindi sex story 2014mast ram ki chudai ki kahanianew chut ki kahanibhabhi chodmota lund chudaipadosi sexjawani chutmummy papa ki chudaiantravasana hindi sexy storiesbhabhi ki chut ki chudai storyxxx hindi storykhule me chudaifree chudai kahanichut dekhigarima ki chudai